Skip to content

Cart

Your cart is empty

SUBSCRIBE

TO OUR NEWSLETTER TO RECEIVE MEMBER-ONLY OFFERS.

Article: किरदार

किरदार

ये पोस्ट हिंदी-lish में।

कई दिनों तक लगातार मसालेदार खाना खाने के बाद एक दिन आपको लगता है “आज सिर्फ़ खिचड़ी खाएँगे, साथ में निंबू का अचार और दही”।
बिलकुल वैसे ही वर्तमान में तमाम मसालेदार वेब-सिरीज़ देख के यदि आपको entertainment acidity महसूस हो, तो हाजमा ठीक करने के लिए एक recipe share कर रहे हैं-
गुलज़ार साहब का 90s में बनाया धारावाहिक “किरदार”।

हर एपिसोड एक short story पे आधारित है।
ओम् पूरी जी मुख्य भूमिका में।
कुछ episodes में इरफ़ान खान साहब भी दिखेंगे।
संगीत जगजीत सिंह जी ने दिया है।
अफ़सोस आज तीनो हमारे बीच नहीं हैं।
वेब-सिरीज़ के मरीज़ों को इस धारावाहिक में खिचड़ी का हल्कापन, और दही की ठंडक मिलेगी। और यदि बारीकी से देखें तो गुलज़ार साहब अपनी हर कृति में आपको निंबू के अचार का खट्टा-मीठा चटकारा भी ज़रूर देते हैं।

(यदि हमारी पोस्ट आपको पसंद आए, तो comments section में हमें ज़रूर बताएँ।)

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

All comments are moderated before being published.

Read more

RIP Pt Rajan Mishra - By HolyWeaves, Benares

RIP Pt Rajan Mishra

At HolyWeaves, we deeply mourn the demise of Padma Bhushan Pt Rajan Mishra Ji, of Rajan-Sajan duo. Pandit Ji was one of the foremost exponents of Khayal Gayaki, and the leading light of the Benares...

Read blog post
Face-off. Handloom vs Powerloom Sarees. Understand the differences to make an informed buying decision. - By HolyWeaves, Benares

Face-off. Handloom vs Powerloom Sarees. Understand the differences to make an informed buying decision.

Is you saree an authentic handloom saree? And is it worth the premium you paid for it over similar-looking powerloom products? Lets explore.

Read blog post